B19 – प्यार की सजा ज़िंदगी भर – Very Sad Love Story Hindi

Very Sad Love Story Hindi – आज की कहानी Very Sad Love Story Hindi बहुत दुखभरी है राधिका और श्याम की बेइन्ताह मोहब्बत होने के बाबजूद भी राधिका से श्याम को बहुत दूर कर दिया गया Very Sad Love Story Hindi जानिए क्या है राधिका और श्याम की कहानी Very Sad Love Story Hindi कैसे और क्यों अलग कर दिया गया श्याम को राधिका से, पढ़ते रहिये हमारी ये कहानी Very Sad Love Story Hindi – 

very sad love story hindi

11 बी की परीक्षा हो चुकी थी राधिका बहुत होशियार थी लेकिन अपनी पढ़ाई के साथ साथ वह श्याम से भी बहुत प्यार करती थी लेकिन श्याम को अभी तक ये पता नही था हालांकि श्याम भी राधिका से बेहद प्रेम करता था लेकिन उसने भी राधिका को कभी पता नहीं लगने दिया, श्याम पढ़ाई में इतना होशियार भी नहीं था लेकिन दिल से अच्छा था उसे गुस्सा बहुत जल्दी आ जाता था गुस्से के चक्कर में 2,3 टीचर को भी मार दिया था लेकिन पिता जी पैसे बाले थे इसलिए स्कूल से किसी ने निकाला नहीं, राधिका श्याम से निस्वार्थ प्रेम करती थी ।

12th में आ गए थे दोनों एक दिन राधिका को पुरव नाम के लड़के ने प्रपोज किया राधिका ने उसे मना कर दिया लेकिन पुरव राधिका को परेशान कर रहा था और जबरदस्ती कर रहा था किसी ने श्याम को ये बात बताई श्याम ने पुरव की खूब पिटाई की और उससे राधिका को Sorry बुलवाया, श्याम की इतनी फिकर उसके लिए देख कर राधिका खुश हो रही थी ।

कुछ दिन ही बचे थे 12th के पेपर के लिए उसके बाद श्याम और राधिका अलग हो जायेगे ये बात दोनों अच्छे से जानते थे इसलिए एक दिन श्याम ने राधिका को प्रपोज़ करने का सोचा और उसी दिन राधिका ने भी श्याम को प्रपोज़ करने का सोचा इसलिए एक ही दोनों लंच टाइम में स्कूल के गार्डन में मिले और दोनों ने एक दूसरे को देख कर साथ में कहा ” मुझे तुमसे कुछ बात करनी है ” दोनों रुक गए और श्याम ने कहा ” हाँ बोलो ‘ राधिका – नहीं पहले आप बोलो ‘ श्याम – नहीं पहले तुम बोलो प्लीज ‘

राधिका – ठीक है एक काम करते है आपअपनी बात एक कागज में लिख कर ले आओ में भी अपनी बात कागज में लिख ले रही दोनों साथ में अपनी-अपनी बात साथ कह लगे ‘ श्याम मुस्कुराया और ठीक है कहकर पेज पर अपने दिल की बात लिखने चला गया, राधिका पहले से लव लेटर लिख कर लाई थी लंच खतम होने ही बाला था श्याम लेटर लिख कर लाया और राधिका को दिया और राधिका ने अपना लेटर श्याम को दिया, दोनों ने मन मे साथ पढ़ा ।

लेटर पढ़कर दोनों ने एक दूसरे को देखा और मुस्कुराने लगे श्याम ने लेटर में शादी के लिये लिखा था और राधिका ने उसकी पत्नी बनकर जीवन साथ बिताने को कहा था’  श्याम ने राधिका को अपना नंबर दे दिया और धीरे – धीरे दोनों आपस में बातें करने लगे कुछ दिनों बाद स्कूल खतम हो गया और फिर दोनों कॉलेज में आ गये थे लेकिन राधिका के पिता उसकी शादी करने बाले थे इसलिए राधिका ने श्याम के बारे में अपने परिवार को बताया,

लेकिन राधिका के पिता नहीं मानें और राधिका के लिये एक लड़का देखा और रिश्ता पक्का कर दिया, राधिका श्याम के बिना नहीं रह सकती थी इसलिए राधिका ने भाग कर शादी करने का फैसला किया जबकि राधिका के पिता ने उससे साफ कह दिया था अगर भागी तो दोनों को जान से मार देगे, उन्हे अपनी इज़्ज़त अपनी लड़की की खुसी से भी ज्यादा प्यारी थी, लेकिन श्याम ने राधिका को तसल्ली देकर कहा ” सभी के पिता ऐसे ही बोलते शादी के बाद बो भी मान जायेगे ‘

भागकर शादी – Very Sad Love Story Hindi

राधिका ने भी यही सोचा और एक दिन कॉलेज से श्याम के साथ जाकर कोर्ट मैरिज करली, श्याम ने उसी दिन राधिका से कहा ” चलो तुम्हारे घर सबसे आशीर्वाद लेकर आते है’ लेकिन राधिका डरी हुई थी कि कहीं उसके पिता श्याम को मार ना दे इसलिए राधिका ने श्याम से शहर छोड़ने को बोला हालाँकि श्याम के माता पिता उसके साथ थे, श्याम को जैसा पसंद था उसमे उसके साथ खड़े थे इसलिए श्याम ने राधिका की बात मानकर शहर छोड़ दिया और दूसरे शहर में जाकर रहने लगे ।

इन्हे भी पढ़े – Very Sad Love Story Hindi

महेश का प्यार
मोहब्बत में झूठ

श्याम और राधिका मथुरा शहर में रहने लगे और श्याम ने वहीं अपने लिए एक जॉब देख ली और जॉब करने लगा दोनों खुश थे और खुशी खुशी अपना जीवन व्यतीत कर रहे थे लेकिन राधिका के पिता राधिका और श्याम को धूँड रहे थे कुछ दिनों बाद राधिका के पिता ने श्याम और राधिका का पता लगा लिया लेकिन राधिका के पिता ने राधिका से बात करने की कोशिस करी, तो एक दिन शाम को राधिका के पिता ने राधिका को फोन किया,

राधिका के पिता को ये शादी मंजूर नहीं थी और राधिका से घर बापस आने को बोला और श्याम को डाइवोर्स देने को कहा, लेकिन राधिका ने श्याम को छोड़ने से इनकार कर दिया, और फोन काट दिया । एक दिन राधिका के पिता ने श्याम का नंबर निकलवा कर उसे भी फोन किया और कहा ” राधिका को छोड़ दो ” लेकिन श्याम ने सम्मान से जबाब देते हुए कहा ” आप कैसे पिता है अपनी ही लड़की का घर तोड़ने को कह रहे है ” लेकिन राधिका के पिता ने धमकी देते हुए फिर कहा कि उसे जान से मरवा देगे, उन्होंने ये भी कहा कि सब पता है तुम लोग कहा रह रहे हो श्याम ने सुनकर फोन काट दिया ।

श्याम ने राधिका को ये सब बात बताई राधिका और डर गयी, और रोते-रोते कहने लगी ” गलती करदी भाग कर शादी करके अगर आपको कुछ हो गया तो मेरा क्या होगा ” तब श्याम ने राधिका को समझा कर चुप कराया और कहा ” ऐसे कोई किसी को नहीं मारता बो बस डरा रहे हमें ताकि हम अलग हो जाये, तुम चिन्ता मत करो कुछ नहीं होगा मुझे ‘ राधिका – ठीक पर हम मथुरा से कहीं और चलते है उन्हे यहाँ का पता लग गया है ‘ श्याम ने राधिका की बात मानली और अगले दिन ही भोपाल के लिए निकल गए ।

राधिका के पिता ने श्याम को मारने गुंडे भेजे थे जिस दिन वह निकले लेकिन कोई मिला नही, भोपाल में श्याम का के जीजा जी रहते थे कुछ दिन श्याम और राधिका उनके यहाँ रुके रहे फिर श्याम ने भोपाल में ही अपने लिए एक नौकरी देख ली, इसलिए भोपाल में ही राधिका और श्याम किराये पर कमरा लेकर रहने लगे करीब एक साल निकल गया श्याम और राधिका खुशी खुशी रह रहे थे ।

एक दिन राधिका ने श्याम को खुश खबर सुनाते हुए बताया की वह Pragnent है श्याम बहुत खुश हो गया । राधिका की माँ उससे छुप छुप कर बातें करती थी तो राधिका ने अपनी माँ को ये खबर सुनाई उसकी माँ भी खुश हो गयी और राधिका श्याम भी बहुत खुश थे कुछ दिनों बाद राधिका की बहन की शादी थी शादी के एक महीने पहले राधिका के पिता ने अपनी पत्नी से कहा ” मुझे पता है की तुम राधिका से बात करती हो’ राधिका की माँ डर गयी और चुप ही रह गयी’ लेकिन राधिका के पिता ने अपनी पत्नी से राधिका और श्याम को शादी में बुलाने को कहा ‘ राधिका की माँ सुनकर बहुत खुश हो गयी ।

राधिका की माँ ने राधिका को फोन किया और कहा ” अगले महीने बहन की शादी है तुम्हारे पापा ने तुम्हे और श्याम को बुलाया है’ राधिका सुनकर खुश हो गयी और पूछा ” क्या पापा अब मुझे नाराज़ नहीं है ‘ माँ – नहीं तभी तो तुम्हे और श्याम को इतने साल बाद बुला रहे ‘ राधिका बहुत खुश हो गयी । शाम को जब श्याम घर पर आया तो उसने श्याम को बताया श्याम ने कहा ये तो अच्छी बात है’ राधिका – चलेंगे ना हम लोग वहाँ’ श्याम – हाँ तुम चली जाना में नहीं जाउगा’ राधिका – क्यों’ श्याम – मेरा दिल नही कर रहा ‘

श्याम ने बहुत मना किया लेकिन राधिका ने श्याम को जाने को कहा इसलिए फिर श्याम भी राधिका की खुशी के लिए जाने को तेयार हो गया, राधिका को खुश देख कर श्याम बहुत खुश था और राधिका भी बहुत खुश थी सोचकर कि उसके पिता मान गये लेकिन किसी को ये नहीं पता था कि ये सब उनका बिछाया जाल है राधिका की माँ को भी कुछ पता नहीं था करीब शादी के 15 दिन पहले श्याम और राधिका चले गये । हालांकि राधिका के पिता ने किसी से बात नहीं की लेकिन उन्हे पता नहीं लगने दिया की उनके साथ कुछ गलत होने बाला है ।

2,3 दिनों बाद राधिका को उसकी माँ और बहन के साथ बाजार भेज दिया शॉपिंग करने उसी दिन राधिका के पिता के कहने पर राधिका के भाई और कुछ लड़को ने मिलकर श्याम को कमरे में बंद करके बहुत मारा लेकिन श्याम इतनी मार सह नहीं माया ।

very sad love story hindi

कुछ देर बाद राधिका घरआई, राधिका ने श्याम को नीचे लेटे हुए देखा और आस पास उसके पिता, भाई और कुछ लड़के खड़े थे राधिका जोर जोर से रोने लगी और अपने पिता को मारने लगी और कहने लगी आपने मार दिया मेरे श्याम को कुछ देर बाद पुलिस आई और राधिका के पिता, भाई और उन लड़को को पकड़ के ले गयी, राधिका जी कर भी मर चुकी थी लेकिन उसने खुद को जिंदा रखा अपने और श्याम के बच्चे के लिए करीब 8 महीने बाद राधिका को एक लड़की हुई ।

राधिका अब श्याम की यादों के सहारे अपनी बेटी के साथ जी रही थी, राधिका बहुत सी बातों का अफ़सोस करती रहती की शायद श्याम से भाग कर शादी ही न करती या फिर काश उस दिन श्याम की बात मान लेती और अकेली ही चली जाती तो श्याम उसके पास होता, लेकिन श्याम अब चुका था और राधिका को उसकी यादों के सहारे जीने के अलाबा और कोई रास्ता नही था। Very Sad Love Story Hindi – 

तो दोस्तो क्या राधिका के पिता ने अपनी झूठी इज़्ज़त के लिए सही किया या गलत अपनी राये कंमेंट् में जरूर दे धन्यवाद 🙏🏻

और भी कहानियां पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे –
Sad Love Story in Hindi
कॉलेज का प्यार

My Second Website – https://thetopworld.com/

Leave a Reply